आपका विश्वास ही तय करता है सफलता का प्रतिशत – परीक्षित भारती

मार्गदर्शक एवं समन्वयक ने किया छात्र छात्राओं को संबोधित
श्योपुर :कोचिंग समन्वयक एवं मार्गदर्शक परीक्षित भारती ने कहा है कि आपका विश्वास ही तय करता है कि आप कितने प्रतिशत सफल है। यह बात प्रारंभिक परीक्षा 2018 के घोषित परिणामों में छात्र छात्राओं ने सफल होकर सिद्ध भी कर दी है। वे आज खटीक समाज के सामुदायिक भवन पर एमपीपीएससी निःशुल्क कोचिंग के छात्र-छात्राओं को संबोधित कर रहे थे।
समन्वयक परीक्षित भारती ने गुरू द्रोणाचार्य और शिष्य एकलव्य की कहानी के माध्यम से बताया कि यह एकलव्य का विश्वास ही था जो उसने गुरु को हमेशा अपने पास रखने के लिए उनकी मूर्ति ही बना ली। उसके गुरु के करीब होने के अहसास ने एकलव्य को श्रेष्ठ धनुर्धर की पढ़ाई में निपुण बना दिया।
दूसरी कहानी के माध्यम से बताया कि एक बार भारत के मिसाइलमेन एवं राष्ट्रपति डॉ एपीजे अब्दुल कलाम एक कार्यक्रम में शिरकत करने गए जहां दक्षिण अफ्रीका के महानायक नेल्सन मंडेला जी भी आने वाले थे।

उस कार्यक्रम में मंच पर चढ़ते वक्त छड़ि महानायक नेल्सन मंडेला जी के हाथ से छुट जाती है और भारत के महान राष्ट्रपति डॉ एपीजे अब्दुल कलाम उनके हाथ को थाम लेते हैं और बाद में बोलते है कि मैं महानायक का हाथ काफी देर इसीलिए पकड़े रहा, क्योंकि मैं उस वक्त यह अनुभव कर रहा था कि मैं दुनिया के महानायक को स्पर्श कर रहा हूं। इसी विश्वास के कारण भारत के राष्ट्रपति डॉ एपीजे अब्दुल महान राष्ट्रपति के रूप में आज भी युवाओं, देशवासियों तथा विदेशियों की धड़कनों में जिंदा है और हमेशा रहेंगे।

मार्गदर्शक परीक्षित भारती ने कहा कि इतिहास गवाह है जिन-जिन को समाज ने शुरुआत में पागल समझा है आगे चलकर उन्होंने ही व्यवस्था को बदला है और इतिहास रचा है। अधिकारी भी एक लीडर ही होता है जो समाज को दिशा प्रदान करता है। उसकी उपस्थिति से समाज निरंतर उन्नति की ओर अग्रसर होता है। आप लोग भी उन्नति की राह पर अग्रसर हैं। इस बात का हम सब को गर्व भी है। अंत में सफल छात्र छात्राओं के साथ शिक्षकों ने संयुक्त फोटो भी खिंचवाया।
निःशुल्क कोचिंग आदर्श परिवार ने एमपीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा 2018 के घोषित परिणामों में अतुल गुप्ता, राजेश प्रजापति, राजीव सखवार, अंशु सिंघल, मीनू सिंघल,सूरज सिंह, धूली पटेलिया, अनुज बाजपेई, केशव मित्तल, राकेश गौतम, पूनम सेन, राजू सिंह कुशवाह आदि को सफल होने पर बहुत बधाई भी दी।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *