जल संकट से जूझ रहे शिवपुरी वासियो को 40 दिन से धरने पर होने के बाद भी कलेक्टर ने नही लिया ज्ञापन

*पानी को लेकर परेशान लोगों ने निकाली रैली, कलेक्टर नहीं आईं ज्ञापन लेने तो विरोध में हुई नारेबाजी, बाद में किया चक्का जाम*

– *पेयजल समस्या को लेकर परेशान लोगों ने निकाली रैली*

– *कलेक्टर सहित कोई भी वरिष्ठ अधिकारी नहीं आया ज्ञापन लेने*

*शिवपुरी।*
शिवपुरी शहर में पड़ रही तेज़ गर्मी के बीच पेयजल संकट गहरा गया है। बुधवार को परेशान लोगों ने जल क्रांति आंदोलन कर्ताओं के नेतृत्व में एक रैली निकालकर कलेक्टर कार्यालय का घेराव कर नारेबाजी की। परेशान लोगों का कहना था कि शिवपुरी शहर में पीने के पानी की परेशानी है और निरंकुश अफसरशाही जनता की परेशानी की सुनवाई नहीं कर रही है। 40 दिन से माधव चौक पर धरना प्रदर्शन जारी है, इसके बाद भी कोई प्रभावी कार्यवाही सिंध जल आवर्धन योजना के प्रोजेक्ट को लेकर नहीं की जा रही है। रैली में शामिल लोगों ने आरोप लगाया कि सिंध जल आवर्धन योजना के तहत प्रोजेक्ट अभी तक पूरा नहीं हुआ है और पाइप लाइन के जरिए घरों तक पानी नहीं आ पाया है। लोगों का आरोप है उन्हें पीने का पानी नहीं मिल रहा है। प्रदशर्न करने वाले लोगों में बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद रहीं। पानी की समस्या से परेशान लोग बुधवार को कलेक्टर कार्यालय पर ज्ञापन देने के लिए गए तो कोई भी वरिष्ठ अधिकारी ज्ञापन लेने के लिए नहीं आया, जिससे लोगों की नाराजगी और बढ़ गई। जल क्रांति आंदोलन करता और पानी से परेशान लोगों ने बताया है कि उन्होंने पहले ही जिला प्रशासन को रैली निकालकर ज्ञापन देने की सूचना दे दी थी। उसके बाद भी नवागत कलेक्टर शिल्पा गुप्ता सहित कई वरिष्ठ अधिकारी मौके पर ज्ञापन लेने के लिए नहीं आया। एक घंटे तक नारेबाजी के बाद में लोग माधव चौक पर एकत्रित हो गए और उन्होंने चक्का जाम कर दिया। लोगों का आरोप है कि शिवपुरी में प्रशासन असंवेदनशील बना हुआ है और लोगों की परेशानी को हल नहीं किया जा रहा है।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

शिवपुरी के न्यूज पोर्टल की खबर पर तत्काल कार्यवाही हो रही हैं. --भूपेंद्र विकल

Wed May 30 , 2018
शिवपुरी के न्यूज प्रोर्टल की खबर पर तत्काल कार्यवाही हो रही हैं. —–भूपेंद्र विकल ——- शिबपुरी ।आज हिन्दी पत्रकारिता दिबस(30मई)है.हस्तलिखित समाचार पत्र से प्रारंभ होकर विशाल समाचार पत्रों एवं पत्रिका के प्रकाशन, टी.वी चैनलो के प्रसारण के साथ साथ वेव न्यूज प्रोर्टल तक आ गई है.देश की राजधानी, प्रदेश की […]