दिन दहाड़े की गयी 02 लाख 25 हजार की लूट का खुलासा

-ः अंतरराज्यीय गिरोह के तीनों आरोपी गिरफ्तार, 315 बोर का कट्टा जप्त

फरियादी को जानने वाले ने ही रची थी साजिश

शिवपुरी-दिनांक 31.07.18 को फरियादी जसराम पुत्र भूपत सिंह कुशवाह, 30 साल, नि. वार्ड क्र. 01 नरवर ने नैनागिर तिराहे पर एक लेखीय आवेदन पत्र प्रस्तुत किया था कि वह ग्राम सुनारी में क्वेंस्ट बैंक संचालित करता है व मोटर साइकिल से नरवर से ग्राम सुनारी जा रहा था एक बैग भी पीठ पर टांगे था बैग में 02,25,000 रू. थे फरि. को पीछे से मोटर साइकिल से दो बदमाशों द्वारा आकर कट मारकर गिरा दिया व उससे रूपयों से भरा बैग, मोबाइल, 02 एटीएम व एक चैक छीन लिया गया। रिपोर्ट पर अपराध क्र. 77/18 धारा 382 ताहि तरमीन धारा 392 ताहि, 11,13 एमपीडीके एक्ट पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
पुलिस अधीक्षक शिवपुरी श्री राजेश हिंगणकर द्वारा थाना प्रभारी सीहोर उनि दिनेश बिरथरे को उक्त घटना को गंभीरता से लेने व क्षेत्र के शातिर अपराधियों व जेल से छूटे हुये अपराधियों की गतिविधियों पर ध्यान केन्द्रित कर पतारसी हेतु निर्देशित किया गया।
विवेचना के दौरान विश्वस्थ मुखबिर द्वार सूचना प्राप्त हुई कि सुनारी के सुधीश तिवारी के ग्राम बहरूका थाना वीरपुरा जिला दतिया के लुटेरों शिवम पुत्र कालीचरण चैबे, 25 साल व बसंत पुत्र शोभाराम पाल, 25 साल से गहरे संबंध है तथा घटना दिनाँक के आसपास इनकी उपस्थिति घटनास्थल के आसपास देखी गयी है इसी सूत्र को आधार मानकर संदेहियों की तलाश की गयी।
दिनाँक 30.08.18 को पुलिस अधीक्षक शिवपुरी को मुखविर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि तीनों संदेही एक मोटर साइकिल से भितरवार की ओर जा रहे है। सूचना पर पुलिस अधीक्षक शिवपुरी द्वारा अति. पुलिस अधीक्षक शिवपुरी श्री गजेन्द्र सिंह कंवर को आदेशित किया गया कि संदेही बसंत व शिवम पूर्व शातिर अपराधी है अतः साहस व सूझबूझ के साथ तत्काल कार्यवाही कर सूचना से मुझे अवगत करायें पर से अति. पुलिस अधीक्षक शिवपुरी एवं एस.डी.ओ.पी. करैरा श्री रत्नेश सिंह तोमर के निर्देशन में पुलिस टीम थाना प्रभारी दिनेश विरथरे के नेतृत्व में स.उ.नि. रामबरन सिंह तोमर, स उ नि पुष्पेंद्र सिंह चौहान ,प्रआर. संतोष कुमार, आर. अर्जुन सिंह, आर. दीपक, आर. चा. यशवंत सिंह के द्वारा तीनों संदेहियों को गोहिंदा तिराहा भितरवार रोड पर पकड़ा गया व थाने लाकर पूछताछ की तो संदेही बंसत व शिवम ने सुधीश तिवारी की सूचना पर अपराध घटित करना स्वीकार किया
अभियुक्तों द्वारा दिनाँक 30.07.18 को छितरी तिराहे पर रेकी की गयी व दिनाँक 31.07.18 को तीनों अभियुक्तों द्वारा इन्दरगढ़ तिराहे पर आकर फरियादी का इन्तजार किया गया। फरियादी के नरवर से मोटर साइकिल द्वारा आने पर सुधीश तिवारी द्वारा इशारा किया गया कि यही शिकार है व तीनों के द्वारा फरियादी का पीछा किया गया सुधीश तिवारी को फरियादी पहचानता था इसलिये वह नैनागिर तिराहे पर उतर गया इसके बाद बसंत व शिवम ने ग्राम नैनागिर से 01 कि.मी. आगे पहुँचकर कट मार कर फरियादी को गिरा दिया व कट्टा अड़ाकर बैग, मोबाइल, एटीएम व चैक छीनकर वापस नैनागिर की ओर भागे रास्ते से सुधीश को साथ लेकर डबरा की ओर निकले तथा रास्ते में फरियादी का मोबाइल टावर लोकेशन मिलने के डर से फेंक दिया, डबरा रेल्वे स्टेशन के मालगाड़ी वाले प्लेटफार्म पर पहुँचकर लूटी गयी राशि का बंटवारा किया।
अभियुक्त बसंत के कब्जे से घटना में प्रयुक्त बिना नंबर प्लेट लगी मोटर साइकिल हीरो डीलक्स काले रंग की व 35,000 रू. नगद व अभियुक्त शिवम से घटना में प्रयुक्त 315 बोर का देशी कट्टा मय 02 जीवित राउन्ड व 30 हजार रू. नगद एवं अभियुक्त सुधीश तिवारी से 25,000 रू. नगद बरामद किये गये है। आरोपीगणों की निशादेही पर डबरा रेल्वे स्टेशन के मालगाड़ी वाले प्लेटफार्म के पास से फरियादी का बैग जिसमें रूपये वह रूपये ले जा रहा था, जप्त किया गया। यह आरोपी दतिया ग्वालियर शिवपुरी झांसी में पूर्व में कई वारदात कर चुके हैं यह एक अंतर्राज्जीय गिरोह है
प्रकरण में धारा 120बी भा.द.वि., 25,27 आयुध अधिनियम बढ़ाई गयी है अभियुक्तों को पुलिस रिमान्ड पर लेकर शेष राशि बरामदगी के प्रयास किये जा रहे है।
संपूर्ण घटना की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियो को दी गयी। इस सराहनीय कार्य के लिए पुलिस अधीक्षक द्वारा सम्पूर्ण टीम को बधाई दी गई। अभियुक्तों की गिरफ्तारी में विशेष योगदान देने पर सउनि पुष्पेन्द्र सिंह चैहान व प्रआर. संतोष कुमार को पुलिस अधीक्षक द्वारा व्यक्तिगत रूप से बधाई दी गयी।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *