दो दिवसीय सामुदायिक आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण कार्यशाला आज से

Share
शिवपुरी, 15 जून 2018/ कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने कहा कि प्रशासन के साथ आम नागरिकों की भी जवाबदारी बनती है कि आपदाओं से बचाव हेतु प्रशिक्षित होकर धैर्यपूर्वक आपदाओं का सामना करते हुए जानमाल की सुरक्षा में प्रशासन का सहयोग करें। कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता पुलिस कंट्रोल रूम शिवपुरी में दो दिवसीय सामुदायिक आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण कार्यशाला के शुभारंभ कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रही थी। कार्यक्रम की अध्यक्षता पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार पाण्डे ने की।
श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं से नुकसान को कम करने हेतु हर स्तर पर तैयारी की जानी चाहिए। उन्होंने बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदा के दौरान वर्षा पूर्व किए जाने वाली इंतजामों पर भी प्रकाश डालते हुए कहा कि जर-जर एवं पुराने मकानों की सूचना तत्काल दी जाए, ताकि वर्षा के दौरान लोगों को उनसे निकाला जा सके। उन्होंने कहा कि बाढ़ जैसी आपदा के दौरान महामारी, जलप्रदूषण, जहरीले जीव जन्तुओं से होने वाले खतरों को पहले से ही चिहिंत कर रोकने के इंतजाम किए जाए।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार पाण्डे ने बताया कि प्राकृतिक आपदा हो या मानव निर्मित आपदा दोनों आपदाओं से ही बड़ी संख्या में जनधन को हानि होती है। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की आपदा आने के पूर्व हमें सभी प्रकार के इंतजाम कर लेने चाहिए। जिससे आपदा में कम से कम जनहानि हो सके। उन्होंने कहा कि बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदा आने के पूर्व हमें प्रभावित गांवो एवं कस्बो को चिंहित कर सुरक्षा समितियों का गठन कर स्थानीय स्तर पर ही तैराक, गोताखारों को उपलब्ध स्थानीय संसाधनों का कैसे बेहतर उपयोग कर जनहानि को नियंत्रण किया जा सकता है। इसका प्रशिक्षण दिया जाए। नेहरू युवा केन्द्र के श्री विनोद चतुर्वेदी ने कहा कि बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदा में नेहरू युवा केन्द्र के युवाओं का भी उपयोग किया जा सकता है।
कार्यशाला के समापन अवसर पर संभागीय सेनानी ग्वालियर श्रीमती संगीता शाक्य ने कहा कि युवाओं को आपदा की जानकारी के साथ आपदा नागरिकों के बचाव हेतु स्थानीय स्तर पर उपलब्ध संसाधनों का कैसे उपयोग करें। जिससे जानमाल की क्षति को कम किया जा सके। इसके लिए युवाओं की सिविल डिफेन्स वोलेन्टियर बनाने की सलाह दी।
कार्यक्रम के शुरू में जिला सेनानी श्री एल.एन.बागरी द्वारा बाढ़, आपदा की सामान्य जानकारी देने के साथ-साथ बचाव हेतु उपलब्ध संसाधनों एवं उपकरणों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि स्थानीय स्तर पर उपलब्ध तैराक, गोताखोरों को चिंहित कर उन्हें बाढ़ से बचाव हेतु प्रशिक्षित किया जाए।
इस मौके पर एसडीईआरएफ इकाई ग्वालियर, नगर पालिका के फायरमेन श्री मुकेश शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के डॉ.एल.के.शाक्य, जीडीसी कॉलेज शिवपुरी के प्रो. दिनेश शर्मा, उत्कृष्ट शा.उ.मा.विद्यालय के प्राचार्य श्री विवेक श्रीवास्तव, श्री मनीष श्रीवास्तव, एसडीओ श्री अवधेश सक्सैना, एसडीओ विद्युत विभाग सेवानिवृत्त श्री आदित्य शिवपुरी, जल संसाधन विभाग शिवपुरी के श्री मनीष श्रीवास्तव, प्लाटून कमाण्डर आदि उपस्थित थे।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: