फर्जी मजदूरों के नाम पर मनरेगा घपला,रातों रात जेसीबी से खोदे ताल

फर्जी मजदूरों के नाम पर मनरेगा घपला,रातों रात जेसीबी से खोदे ताल

जनपद अधिकारियों को मामले की जानकारी होते हुए नहीं हुई कार्यवाही

करैरा ब्रेकिंग न्यूज

करैरा/करैरा अनुविभाग के आदर्श गाँव सिरसौद में मनरेगा की खेत तालाब योजना में भारी अनियमितताएं देखी जा रहीं है। हजारों मजदूरों की संख्या मस्टर रोल में दर्शाकर लाखों रूपये अबैध कार्यों को अंजाम दिया जा रहा है। जो लोग कभी मनरेगा में मजदूरी करने नहीं गये उनके नाम की हाँजिरी भर कर पैसा निकालने के कार्य को अंजाम दिया जा रहा है। चार-चार सप्ताहों के मजदूरो की हाजिरी एक दिन में एक साथ लगाकर खानापूर्ती की जा रही है। अधिकतर काम पंचायत कर्ता धर्ता अपने नाम से कार्य योजनाएं निकाल कर स्वयं लाभ ले रहे और आम लोग जनहितकारी योजनाओं से बंचित है। खेत तालाब योजना के अन्तर्गत सरपंच ने करीबी नत्थू लोधी, व ग्रामीण वेयर फुट इंजीनियर ने अपने पिता रामाधार चौबे और उप सरपंच सुन्दर भान गौतम द्वारा स्वयं के नाम पर खेत तालाब स्वीकृत कराकर मनरेगा के तालाब मजदूरों की जगह रातों रात जे सी बी मशीन से खुदवा कर अपनी जेब भरने के कार्य को अंजाम दिया जा रहा है। कुछ अन्य खेत तालाब देखें जाये तो वो गाँव के दबंग नेताओं और पंचायत मेम्बर्स के नाम स्वीकृत कर मशीनों के कार्य किया जा रहा है। इस मामले में जनपद पदाधिकारियों को जानकारी होने के बाबजूद भी कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। यदि इन फर्जी मजदूरों को वास्तविक स्थिति में देखा जाये कई अपने व्यापारिक कार्यों में व्यस्त है। इस प्रकार एक व्यक्ति दो दो जगह कैसे कार्य कर सकता है।
जबकि मनरेगा योजना ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से संचालित की गई है। परन्तु नियमों को ताक पर रखकर खेत तालाब का निर्माण दिन में न करते हुए हुए रातों रात मशीनों के माध्यम से किया जा रहा है। यदि इस मामले में जाँच की जाये तो दूध का दूध और पानी का पानी सामने आ सकता है। इस प्रकार केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री के गाँव में जिम्मेदारो द्वारा जनता का पैसा अपनी जेब में डाला जा रहा है। प्रधान मंत्री मोदी और सी एम शिवराज सिंह को ग़रीबों की चिंता है पर आदर्श गाँव सिरसौद मे कागजों मे ही विकास सीमित है।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *