बच्चों को जल सत्याग्रह करते देख ,बाल आयोग के अध्यक्ष पहुंचे मंच पर

*बाल आयोग अध्यक्ष भी जलक्रांति आंदोलन के समर्थन में उतरे, बच्चों के साथ धरना स्थल पर बैठ दिया समर्थन*

– *शिवपुरी में पानी के लिए 46 दिन से जारी है धरना *

*शिवपुरी*।

शिवपुरी शहर में सिंध जलावर्धन योजना के पूर्ण क्रियान्वयन की मांग को लेकर पिछले 46 दिन से चल रहे धरना प्रदर्शन को मप्र बाल संरक्षण आयोग के अध्यक्ष राघवेंद्र शर्मा ने भी समर्थन दिया। बाल आयोग अध्यक्ष ने मंगलवार को शिवपुरी में जल क्रांति आंदोलनकर्ताओं द्वारा किए जा रहे धरना प्रदर्शन स्थल पर पहुंच यहां पर धरना दे रहे बच्चों से बात की। इस दौरान बाल आयोग ने बच्चों को आश्वासन दिया कि वह पेयजल समस्या को लेकर जिम्मेदारों तक उनकी बात पहुंचाएंगे।

*आयोग अध्यक्ष के मैदान में आने से गरमाई राजनीति*

बाल आयोग अध्यक्ष के एकाएक जलक्रांति के आंदोलनकर्ताओं के समर्थन में सामने आने के बाद शिवपुरी की राजनीति भी गरमाई गई है। कारण यह है कि अभी तक कोई बड़ा पदाधिकारी या जनप्रतिनिधि खुलकर जल क्रांति के समर्थन में नहीं आया था। इससे पहले सोमवार को भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष और मीसाबंदी हरिहर शर्मा ने जरूर इस आंदोलन को समर्थन देते हुए 24 घंटे तक कलेक्टर कार्यालय के सामने धरना दिया था। अब आम जनता के अलावा भाजपा या अन्य पार्टी के नेता भी जलक्रांति के समर्थन में आने लगे हैं।

*आयोग अध्यक्ष बोले- प्रशासन को दूंगा निर्देश *

बाल आयोग अध्यक्ष राघवेंद्र शर्मा ने बताया कि शिवपुरी शहर में पानी की बहुत समस्या है और बच्चे यहां पर धरना दे रहे हैं वह यहां पर बच्चों से बात करने के लिए आए हैं। उन्होंने कहा कि वह इस जलक्रांति का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि वह मप्र सरकार व स्थानीय प्रशासन को निर्देश देंगे कि जल्द से जल्द सिंध जलावर्धन प्रोजेक्ट का क्रियान्वयन हो। गौरतलब है कि शिवपुरी में सिंध जलावर्धन योजना के पूर्ण क्रियान्वयन की मांग को लेकर लोग 46 दिन से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। सिंध जलावर्धन प्रोजेक्ट के तहत घर-घर तक पाइप लाइन के जरिए पानी आना है लेकिन पिछले नौ साल से यह योजना अभी तक पूरी नहीं हो पाई है।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *