बताएं सिंधिया कोलारस और मुंगावली में उन्होंने कितना विकास किया : डॉ.नरोत्तम मिश्रा

पत्रकार वार्ता में सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर बोला हमला,कहा विकास के नाम पर वह क्यों नहीं मांग रहे वोट
उद्योग मंत्री रहते हुए क्षेत्र के लिए एक उद्योग भी लाए हो तो वह बताएं

शिवपुर :आज टूरिस्ट विलेज में आयोजित पत्रकार वार्ता में प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने स्थानीय सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर करारा हमला बोला है। डॉ. मिश्रा ने दो टूक लहजे में सांसद सिंधिया से सवाल करते हुए कहा कि वह बताएं उन्होंने कोलारस  और मुंगावली में कितना विकास किया। वह दोनों विधानसभा क्षेत्रों में विकास के नाम पर क्यों नहीं वोट मांग रहे। पत्रकार वार्ता में उनके साथ प्रदेश सरकार के मंत्री लाल सिंह आर्य और भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा भी थे लेकिन पूरी पत्रकार वार्ता में श्री आर्य और श्री शर्मा पूरी तरह मूक बने रहे।

पत्रकार वार्ता में नरोत्तम मिश्रा ने सांसद सिंधिया पर जमकर कटाक्ष किए। उन्होंने आरोप लगाया कि श्री सिंधिया ने कोलारस और मुंगावली विधानसभा क्षेत्रों में रत्ती भर भी विकास कार्य नहीं किया। इसलिए विकास के नाम पर वह और कांग्रेस नेता किस मुंह से जनता से वोट मांगेंगे। जब श्री मिश्रा से पत्रकारों ने पूछा कि एक ओर आप जहां दोनों विधानसभा क्षेत्रों में विकास की गंगा बहाने का दाबा कर रहे है और दूसरी ओर आपका कहना है कि कांग्रेस और सिंधिया ने दोनों क्षेत्रों में कोई विकास नहीं किया। लेकिन इसके बाद भी दोनों क्षेत्रों में कांग्रेस की जीत के बाद क्या आप जनता को जिम्मेदार मानते है तो उन्होंने इस जबाव से बचने का प्रयास करते हुए कहीं न कहीं जनता को जिम्मेदार भी माना। लेकिन कहा कि जनता की अदालत में अर्जी लगाना हमारा काम है आगे आपकी मर्जी।  उपचुनाव के बाद मात्र 5 माह तक विधायक का कार्यकाल रहेगा और इस 5 माह के कार्यकाल में यदि हम 5 साल का काम करके दिखाएं तो हमें 2018 के चुनाव में जिताना अन्यथा बाहर का रास्ता दिखा देना।

उन्होंने कहा कि अभी तक हमारी सरकार इस क्षेत्र में 200 करोड़ रूपए से अधिक के विकास कार्यों को स्वीकृत करा चुकी है और टेंडर भी लग चुके है। अभी तो यह ट्रेलर है और पूरी फिल्म 2018  के आम चुनाव में देखने को मिलेगी। उपचुनाव के बाद यह अवसर र्दुयोग से आया है और हम चाहते  है कि इस क्षेत्र का विकास हो जाए और जनता इसका लाभ लेंं। उन्होंने कहा कि विकास कार्य देखना है तो मेरे क्षेत्र दतिया में जाकर देखिए कि वहां का विकास हुआ या नहीं। एक सवाल के जबाव में श्री मिश्रा ने सांसद सिंधिया और विधायक केपी सिंह के कथित रूप से कडवाहट भरे रिश्तों पर भी प्रहार करने में संकोच नहीं किया।

चुनाव परिणाम से कोलारस, मुंगावली का भविष्य तय होगा

जनसंपर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने इशारे-इशारों में कहा कि इस चुनाव के परिणाम से किसी का कुछ नहीं बल्कि कोलारस और मुंंगावली का बनने और बिगडने वाला है। चुनाव परिणाम से न तो किसी की सरकार बनने वाली है और न ही किसी की सरकार बदलने वाली है। बनेगा और बिगडेगा तो सिर्फ कोलारस और मुंगावली का। चुनाव परिणाम दोनों विधानसभा क्षेत्रों की धार और दिशा तय करेगा।

भाजपा विधायक ने काम नहीं किया तो जनता ने हरा दिया

मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कोलारस के विधायक रामसिंह यादव ने कोई काम नहीं किया तो पत्रकारों ने सवाल किया आपके विधायक रहे देवेंद्र जैन ने भी अपने कार्यकाल में कोई काम नहीं किया। इस पर साफ लहजे में प्रतिक्रिया देते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि भाजपा विधायक ने काम नहीं किया तो आपने हरा दिया और अब जब कांग्रेस विधायक ने काम नहीं किया तो क्या कांग्रेस प्रत्याशी को हराने की जिम्मेदारी जनता की नहीं है। इसके बाद पत्रकारों ने उनसे पूछा कि क्या देवेंद्र जैन को इस बार टिकट नहीं मिलेगा। क्योंकि काम न करने के कारण वह हार गए थे तो डॉ. मिश्रा का जबाव था कि प्रत्याशी चयन यदि मेरे हाथ में होता तो में इस सवाल का जबाव दे देता। लेकिन इशारे-इशारों में उन्होंने देवेंद्र जैन की उम्मीदवारी पर प्रश्रचिन्ह तो लगा ही दिया।

मजाक-मजाक में बहुत कुछ कह गए नरोत्तम मिश्रा

पत्रकारों से पत्रकार वार्ता के दौरान नरोत्तम मिश्रा मजाक-मजाक में सिंधिया परिवार को निशाना बनाते रहे। पत्रकारों की तरफ जब सूप आया तो विनम्रता पूर्वक पत्रकारों ने और मंत्री जी ने पहले आप पहले आप का आलाप किया। लेकिन श्री मिश्रा ने कहा कि आप हमारे  मेहमान है और हम मेजवान। पहले मेहमान और आपने इसी तरह एक व्यक्ति की (सिंधिया की ओर इशारा) आदत खराब कर दी है।

इस पर पत्रकारों ने कहा कि क्या सिर्फ एक व्यक्ति या पूरा परिवार तो उन्होंने कहा कि पूरा परिवार समझ लीजिए। मैं किसी से नहीं डरता। श्री मिश्रा ने सिंधिया को महाराज शब्द से संबोधित किया तो एक पत्रकार ने उनसे कहा कि मैं उन्हें और यशोधरा राजे को कभी महाराज के नाम से नहीं पुकारता। इस पर श्री मिश्रा ने कटाक्ष करते हुए कहा कि आप उनसे ज्योतिरादित्य भी तो नहीं बोलते। तब उस पत्रकार का जबाव था कि मैं सिंधिया जी कहकर उन्हें पुकारता हूं। इस पर श्री मिश्रा मुस्करा दिए। एक पत्रकार ने उनसे कहा कि कल मैं दतिया गया था वहां मेडिकल कॉलेज लगभग तैयार है। परंतु शिवपुरी में तो कुछ नहीं हुआ। इस पर श्री मिश्रा ने कहा कि यह सवाल उनसे पूछिए जिन्होंने मेडिकल कॉलेज लाने का दावा किया था। श्री सिंधिया पर निशाना साधते हुए उन्होंने पूछा कि वह बताएं उद्योग मंत्री रहते हुए वह इस क्षेत्र के लिए कितने उद्योग लाए। एक भी लाए हो तो उसका नाम बता दे। जबकि मैं स्वास्थ्य मंत्री था तो मेने मेडिकल कॉलेज दिया। विधि  मंत्री था तो मेने दतिया के लिए उच्च क्वालिटी का कोर्ट रूम दिया और जलसंसाधन मंत्री के रूप में 100 प्रतिशत जल संरचनाए दतिया विधानसभा क्षेत्र को दी।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *