बीजदान यज्ञ की आहुति प्रारम्भ,"आओ सवांरे अपनी शिवपुरी.

बीजदान यज्ञ की आहुति प्रारम्भ,”आओ सवांरे अपनी शिवपुरी….”

शिवपुरी- शिव की पावन नगरी शिवपुरी में फिर से हरियाली की चादर बिखेरने व पर्यावरण संरक्षण की दिशा में छोटा सा प्रयास करते हुए आज से बीज दान यज्ञ की आहुति स्वरूप “बीजरोपन”प्रारंभ किया गया।

जिसके तहत जाधव सागर के सामने से कर्बला तक के क्षेत्र का चयन किया ।जिसमें मदद बैंक के समस्त सेवादारों ने तकरीबन 20 बीघा भूमि में जंगली वृक्ष, विदेशी बबूल ,व अन्य के बीज बोए। यह बीज पिछले कुछ दिनों से मदद बैंक के सेवादारों द्वारा एकत्रित किए जा रहे थे ।वर्तमान परिवेश में वृक्षों की उपयोगिता हम सब से छुपी नहीं है ।

हम प्रकृति के प्रकोप का सामना कर रहे हैं और ऐसे में फिर से एक बार जंगलों को हरा-भरा करना हमारी प्रथम प्राथमिकता बन गया है। आज से इस अभियान को प्रारंभ किया गया । इस बृक्ष को पानी की

आवशयकता अत्यंत कम पड़ती है एवम यह बहुत तेजी से ग्रोथ करता है।यह बीज बारिश के साथ ही अपना स्वरूप ग्रहण कर लेगा ओर फिर पौधा,फिर बृक्ष बन जायेगा जो हमारे आने बाले कल की जरूरत है।
हा,दुख इस बात पर अवश्य हुआ कि देखरेख के अभाव में देखते ही देखते फॉर्र्स्ट की यह घने जंगल बाली नर्सरी उजड़ गयी…!
खेर,जो बीत गया उसे बिसार दे और आने बाले कल के लिए….
आइये,इस अभियान में हमारा साथ दीजिए …!
“बीजदान “देने या इस अभियान में सहभागिता करने हेतु हमे सूचित करें…!
अगले रविवार को फिर…..!!

———————————————–
*क्या है यह बीजदान यज्ञ….!*
??????????????
???????????
?? *मदद -बैंक*??
———————————————————
? *”बीज दान यज्ञ”-एक छोटी सी पहल-“आओ सँवारे अपनी शिवपुरी….”*

???????????✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍

प्रियजन,
*प्रकृति* के दोहन के दुष्परिणाम हम सबके सामने है….!
हम जानते है कि पौधों-बृक्षों में भी “जीवन”है,”प्राण वायु”है,”प्राकृतिक संतुलन” के कारक है….
किन्तु,फिर भी …….?
*खैर…..!!*
*”मदद-बैंक”* फिर आपके सामने हांथ फैलाती है…..
*”शिव की पुरी”* को संवारने के लिए आयोजित *”बीज दान यज्ञ”* में एक पुण्य आहुति देने के लिये….!
एक छोटी सी पहल *”बीज दान यज्ञ……”*
हम सब मिलकर *”आओ सवांरे- अपनी शिवपुरी…”*?

? *कैसे करे भागीदारी,कैसे दे इस यज्ञ में आहुति….!!*??

?- *घरों में खाये जाने बाले फलों के बीजों को फेंकने के बजाय धोकर,सुखाकर,यदि सम्भव हो तो थोड़ी सी राख मिलाकर रख दे और हमे सूचित करें…!*?
? *छायादार-फलदार बृक्षों के जो बीज बाज़ार से या अन्य कही से एकत्रित हो सके,नीम की पकी हुई निबोली या अन्य लाकर भी आप हमें दान दे सकते है..!अथवा स्वयम अनुपयोगी मगर सुरक्षित जमीन में बो सकते है।*?
? *आमजन-सामाजिक संस्थाये,युवा व जागरूक लोगो की टीम,महिला-पुरुष संगठन,कॉलोनियों-मोहल्लों में सक्रिय युवा टीमें स्वयं अथवा अपने संपर्क स्थलों से ,थोक व खेरीज के फल विक्रेता अपने प्रतिस्थानो पर प्रतिदिन व्यर्थ हो जाने बाले फलों में से बीज एकत्रित कर हमें सूचित कर दे। *मदद बैंक* के सेवादार उन्हें एकत्रित कर लेंगे।?
? *ग्रामीण पृष्ठभूमि से जुड़े सेवा भावी जन ग्रामो अथवा आसपास के क्षेत्रों से जंगली बृक्षों के बीज इकट्ठा कर हमें सोप दे।बीजदान यज्ञ में उनकी आहुति भी पूर्ण….!*?
?? *हम आपकी *बीज दान”* की इस *पुण्याहुति* को आपके बताये स्थान से एकत्रित करेगे ओर प्रति *रविवार* को बीजोपचार उपरांत सुरक्षित जगह पर *”माँ वसुंधरा* की गोद मे बोकर पूर्णाहुति देगे…! आप समस्तजन भी इन बीजों को सुरक्षित स्थान में बोकर इस यज्ञ में भागीदारी कर सकते है।*?
?आपका यह *बीजदान* वर्षा काल मे नया स्वरूप ग्रहण कर आने बाले कल में पर्यावरण व जनजीवन के लिए *”जीवन दान”* यज्ञ होगा….!?
? *तो आइये,आज से ही हम सब मिलकर शुरू करे पहल इस यज्ञ में पुण्याःहुति की….!,भागीदारी की……!!*?
????????????????????
नोट- *मदद बैंक* समस्त सेवाभावी जनों,संघठनो,युवाओ,मातृशक्तियो,नोनिहालो से अपील करती है कि पर्यावरण सुधार व संरक्षण के इस छोटे से प्रयास में भागीदारी करे और अन्य लोगो को भी इससे जोड़कर जनजागृति लाये…! आपका-हमारा यह प्रयास आने बाले कल के लिए जीवनोपयोगी है…! *स्वागत….!!*
????????????????????
-: साग्रह:-
?? *मदद बैंक* ??
*(सेवादार- बृजेश सिंह तोमर)*
☎ *94254 88524*(w)
*79998 81392*
*(कृपया बीजदान यज्ञ में आहुति ,भागीदारी हेतु फोन या मेसेज करे…..!)* *”आओ सवांरे अपनी शिवपुरी….”*
????????????????????
*नर सेवा- नारायण सेवा का सांझा प्रयास…*)

? *मदद बैंक* ?

*”देवनहार कोई और हे जो देवत दिन रैन….*
*लोग भरम हम पर करे,तासो नीचे नैन….!!”*

????????????✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍✍

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *