राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ परअनर्गल आरोप लगाने के लिये माफ़ी मांगें कमलनाथ:सुरेंद्र शर्मा

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ परअनर्गल आरोप लगाने के लिये माफ़ी मांगें कमलनाथ:सुरेंद्र शर्मा

भोपाल/भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सुरेंद्र शर्मा ने काँग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ द्वारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को ग्वालियर में हुई हिंसा में शामिल होने का आरोप लगाने के लिये माफ़ी माँगने को कहा है।
सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि मुझे समाचार माध्यमो से पता चला है कि काँग्रेस अध्यक्ष श्री कमलनाथ ने 2 अप्रैल को ग्वालियर में हुई हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री जी को पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने हिंसा के लिये रा.स्व.संघ एवं बजरंग दल को भी जिम्मेदार माना है यह कमलनाथ की ओछी सोच को प्रदर्शित करता है।
सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि एक तरफ प्रदेश में काँग्रेस रेगिस्तान की स्थिति में पहुँच रही है दूसरी तरफ़ भीषण गर्मी है ऐसी स्थिति में मानसिक संतुलन गड़बड़ाना स्वाभिक है लेकिन इतना भी न हो कि उपचार की आवश्यकता आन पड़े।
सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि कमलनाथ प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद से केवल एक दिन घर से बाहर निकले हैं जिसमें भी उन्हें चक्कर आ गया था और ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को उन्हें नारियल पानी पिलाना पड़ा था।
बंद कमरे में एसी की ठंडी हवा खा रहे कमलनाथ ज़मीनी हक़ीक़त से कोसों दूर हैं इसलिये राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जैसे राष्ट्रवादी संगठन पर अनर्गल आरोप लगा रहे हैं।
कमलनाथ जी संघ को समझना आप जैसे ब्यापारिक सोच रखने वाले व्यक्ति के बस की बात नही है संघ को व्यापारिक सोच वाला नहीं व्यापक सोच वाला व्यक्ति समझता है क्योंकि संघ अपने संस्कारों से व्यक्ति को देश के लिये समर्पित होना सिखाता है।समरस भारत-समर्थ भारत रा.स्व. संघ का आदर्श वाक्य है लेकिन यह बात आपकी समझ मे नहीं आयेगी क्योंकि आप ने जो किया है और देखा है वही अवगुण आप दूसरों में देखेंगे।
सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जी आपको याद होगा कि काँग्रेस ने आपको पंजाब प्रदेश का प्रभारी बनाया था लेकिन 1984 के सिख दंगों की आँच आपके ऊपर थी इसलिये पंजाब की काँग्रेस इकाई एवं वहाँ की जनता के विरोध के कारण आपको पंजाब के काँग्रेस प्रभारी पद से हटाना पड़ा था।
सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि कमलनाथ रा.स्व.संघ पर आरोप लगाकर राहुल गाँधी के दरवार में नंबर बढ़ाना चाहते हैं लेकिन उन्हें अपने वर्तमान सलाहकार एवं सहयोगी दिग्विजयसिंह जी का अंजाम भी देख लेना चाहिये दिग्विजयसिंह जी ने भी मुख्य मंत्री रहते हुये सोनिया गाँधी जी के दरबार मे अपने नंबर बढ़ाने के लिये उस समय रा.स्व.संघ पर अनेक अनर्गल आरोप लगाने की कोशिश की थी परिणाम सामने है 15 साल से दिग्विजय सिंह और काँग्रेस सत्ता से गायब हैं क्योंकि मध्य प्रदेश की जनता समझदार है उसने संघ का कार्य प्रत्यक्ष देखा है इसलिये जब जब संघ पर किसी ने कीचड़ उछालने की कोशिश की है मध्यप्रदेश की जनता ने उसे करारा जवाब दिया है।
सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि रा.स्व.संघ पर आरोप लगाना चाँद पर थूकने के समान है जिस प्रकार चाँद पर थूकने से थूक थूकने वाले के मुँह पर ही गिरता है उसी प्रकार रा.स्व.संघ पर आरोप लगाने वाले की कालिख उसी के मुँह पर जाकर पुतती है।
सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जी प्रत्यक्ष को प्रमाण की जरूरत नहीं होती थोड़ा इंतजार का मजा लीजिये 2018 के चुनाव में आपके नेतृत्व में काँग्रेस अपने न्यूनतम स्कोर पर पहुँचेगी और भारतीय जनता पार्टी लगातार चौथी बार श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सरकार बनायेगी एवं 2019 में छिंदवाड़ा सहित सभी 29 सीट मध्यप्रदेश में भाजपा जीतेगी से एवं श्री नरेन्द्र मोदी पुनः प्रधानमंत्री बनेंगे।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *