लखेश्वर स्कूल संचालक रघुबीर को 3 माह की सजा एक साल के कारबास की सजा के बाद फिर तीन महीने की सजा

बैराड। शिक्षा विभाग में माफिया बने बैठे लखेश्वर पब्लिक स्कूल के प्रार्चाय की काली करतूते थमने का नाम नहीं ले रही। उक्त स्कूल संचालक पर कई गंभीर मामले दर्ज होने के बाद भी सत्ताधारी दल और अपनी दबंगई के चलते उक्त संचालक लोगों के लिए परेशानी का सबक बन गया है। बीते रोज ही शराब के लिए रूपए मांगने के आरोप ने न्यायलय ने उक्त स्कूल संचालक को एक साल की सजा सुनाई थी। उसके बाद आज फिर एक प्लॉट पर कब्जा करने के मामले में न्यायलय ने दोषी करार देते हुए 3-3 माह की जेल की सजा सुनाई है।
उक्त मामले में सुनवाई पोहरी जेएमएफसी न्यायाधीश धीरज कुमार ने सुनाई है। अभियोजन के अनुसार बैराड़ में संचालित लखेश्वर विद्यालय के संचालक रघुवीर धाकड़ पुत्र मुरारी धाकड़ , केशव पुत्र बनबारी धाकड़,  पदम सिंह पुत्र परसादी रावत, सिद्धम पुत्र नक्टूराम जाटव द्वारा फरियादी माखन धाकड़ के प्लॉट पर कब्जा कर फरियादी के साथ मारपीट कर दी थी।
इस मामले में फरियादी ने थाना बैराड़ में शिकायत दर्ज कराई थी। जिस पर बैराड़ थाना पुलिस ने अपराध क्रमांक 585/15 धारा 147,323 के तहत मामला दर्ज कर कोर्ट में पेश किया था। इस मामले की सुनवाई करते हुए जेएमफसी न्यायाधीश धीरज कुमार ने सभी आरोपीयों को दोषी मानते हुए 3-3 माह की जेल और 500-500 रूपए के अर्थदण्ड से दण्डित किया है।
बताया जा रहा कि आरोपी पर कई जिलों के थाने में अपराध दर्ज है आरोपी पर अपराध क्रमांक 50 / 14 अपराध क्रमांक 241 / 10 धारा 376 अपराध क्रमांक 215 / 12 धारा 323 294 506 बी अपराध क्रमांक 216/13 धारा 327 अपराध  क्रमांक 6/13 धारा 323 324 506 बी 34 अपराध क्रमांक 11 / 13 धारा 25 27 आर्म्स एक्ट अपराधी थाना बैराड़ के अंतर्गत पंजीकृत तथा अपराध क्रमांक 29 / 6 धारा 294  504 पुलिस थाना गसवानी जिला श्योपुर एवं अपराध क्रमांक 4 /11 धारा 147 148 149 323 294 506 बी एवं 3.(1)10 एस सी टी एक्ट के तहत दर्ज है तथा थाना पुलिस कोतवाली शिवपुरी में अपराध क्रमांक 390 / 2010 धारा 420 467 468 34 का अपराध पंजीबद्ध है उक्त व्यक्ति ने पटवारी की चयन परीक्षा फर्जी दस्तावेज तैयार कर पटवारी की नियुक्ति के लिए इस प्रकार उक्त व्यक्ति पर तमाम अपराध पंजीकृत है होने के बाद पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई जिले से बाहर करने के लिए नहीं की गई आज दिनांक तक आए दिन गरीब लोगों के प्रति अत्याचार बढ़ रहे हैं तथा राजनैतिक और प्रभावशाली व्यक्ति होने के कारण जो चुनाव के समय में भी अपने प्रभाव से लोगों को डराया धमकाएगा इसलिए शांति बनाए रखने के लिए ऐसे व्यक्ति को र0सू0अ0 के तहत जिले की सीमा से बाहर करने के आदेश दिए जाएं वरिष्ठ पुलिस के अधिकारियों को! नाम ना छापने की शर्त पर एक पुलिस के कर्मचारी ने वताया गया है कि इन अपराधो के आकडों के अनुशार कही गुना अधिक अपराध दर्ज हैं इन को पुलिस के अधिकारियों और राजनैतिक लोगों का संरक्षण है इस लिए इस बदमाश पर कभी कोई  कार्यवाही नहीं होती हैं इस ने और इस के गिरोह ने कही गरीव लोगों के प्लाटो पर कब्जा कर रखे हैं

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *