विधानसभा निर्वाचन हेतु दिए गए प्रशिक्षण को मास्टर ट्रेनर्स पूरी गंभीरता से लें-श्री चौहान

Share
मास्टर ट्रेनर्स का प्रशिक्षण सम्पन्न
शिवपुरी, 25 अगस्त 2018/ अपर कलेक्टर श्री अशोक कुमार चौहान ने आगामी विधानसभा निर्वाचन हेतु नियुक्त मास्टर ट्रेनर्स के प्रशिक्षण को संबोधित करते हुए कहा कि मास्टर ट्रेनर्स प्रशिक्षण को पूरी गंभीरता के साथ लें और भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन हेतु जो हेण्डबुक जारी की गई है, उसका पूरी गंभीरता के साथ अध्ययन करें। किसी भी प्रकार की जिज्ञासा एवं शंका होने पर प्रशिक्षण में ही दूर कराए, जिससे मतदान दलों को बेहतर तरीके से प्रशिक्षण दे सके।
अपर कलेक्टर श्री चौहान आज जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में मास्टर ट्रेनर्स के प्रथम प्रशिक्षण को संबोधित कर रहे थे। प्रशिक्षण में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राजैश जैन, उपजिला निर्वाचन अधिकारी श्री संजीव जैन, डिप्टी कलेक्टर श्री आर.बी.सिंडोस्कर सहित पांचों विधानसभा निर्वाचन हेतु नियुक्त रिटर्निंग ऑफिसर एवं नोडल अधिकारी आदि उपस्थित थे।
मास्टर ट्रेनर्स के रूप में प्रोफेसर श्री ए.पी.गुप्ता ने मतदान दलों को दिए जाने वाले प्रशिक्षण के संबंध में विस्तार से जानकारी देते हुए इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन एवं वीवीपेट के बारे में विस्तार से जानकारी दी और जिज्ञासाओं को दूर किया।
अपर कलेक्टर श्री चौहान ने प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि प्रशिक्षण मतदान प्रक्रिया का महत्वपूर्ण हिस्सा है। मास्टर ट्रेनर्स यह सुनिश्चित करें कि प्रशिक्षण को पूरी गंभीरता के साथ ग्रहण करें। अगर किसी प्रकार की जिज्ञासा एवं शंका होने पर तत्काल निराकरण कराए। जिससे मतदान दल के सदस्यों को बेहतर तरीके से प्रशिक्षण प्रदाय कर उनकी शंकाओं का भी निदान कर सके। उन्होंने सभी मास्टर ट्रेनर्स को निर्देश दिए कि निर्वाचन के संबंध में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जो पुस्तिका जारी की है। उसमें दिए गए दिशा निर्देशों का पूरी गंभीरता के साथ अध्ययन करें। उन्होंने कहा कि ईव्हीएम एवं वीवीपेट के संबंध में किसी प्रकार की जानकारी या समस्या होने पर जिला मुख्यालय पर ई-गवर्नेंस के प्रबंधक श्री प्रशांत शर्मा से अपनी शंकाओं को दूर कराए।
उन्होंने कहा कि मतदान दल के सदस्यों के प्रशिक्षण के दौरान मतदाताओं को भी वीवीपेट के प्रति जागरूक करें। मतदान दल के प्रशिक्षणों में जिला मुख्यालय से भी अधिकारी उपस्थित रहने के साथ-साथ संबंधित रिटर्निंग ऑफिसर भी प्रशिक्षण में आवश्यक रूप से उपस्थित रहे।
प्रशिक्षण में बताया गया कि ईव्हीएम मशीनों की प्रथम चरण की जांच एफएलसी हो चुकी है। प्रशिक्षण में बैलेट युनिट, कंट्रोल यूनिट, वीवीपेट, मॉकपोल, नोटा, पीठासीन अधिकारी द्वारा विभिन्न प्रपत्रों की पूर्ति किए जाने, मतदान दल के सदस्यों के द्वारा किए जाने वाले कार्य, ईव्हीएम की सीआरसी आदि के संबंध में जानकारी दी।

Durgesh Gupta

Chief Editor

One thought on “विधानसभा निर्वाचन हेतु दिए गए प्रशिक्षण को मास्टर ट्रेनर्स पूरी गंभीरता से लें-श्री चौहान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: