वैष्णोंदेवी एवं पटना साहिब तीर्थदर्शन हेतु आवेदन की अंतिम तिथि आज

शिवपुरी, 29 जून 2018/ मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजनांतर्गत वैष्णोंदेवी एवं पटना साहिब तीर्थदर्शन हेतु इच्छुक आवेदक 30 जून 2018 तक जिले की सभी तहसील, जनपद पंचायत, नगर पालिका, नगर परिषद के कार्यालयों से आवेदन पत्र प्राप्त कर पूर्ति उपरांत जमा कर सकते है।
डिप्टी कलेक्टर एवं परियोजना अधिकारी जिला शहरी विकास अभिकरण ने बताया कि वैष्णोंदेवी तीर्थदर्शन हेतु जिले से तीर्थयात्रियों को लेकर विशेष ट्रेन 07 जुलाई 2018 को शिवपुरी रेल्वे स्टेशन से रवाना होगी और 12 जुलाई 2018 को वापस आएगी। पटना साहिब तीर्थदर्शन हेतु जिले से तीर्थयात्रियों को लेकर विशेष ट्रेन 12 जुलाई 2018 को शिवपुरी रेल्वे स्टेशन से रवाना होगी और 15 जुलाई 2018 को वापस आएगी।
इसी प्रकार माह जुलाई में रामेश्वरम तीर्थदर्शन हेतु विशेष ट्रेन 19 जुलाई 2018 को शिवपुरी रेल्वे स्टेशन से रवाना होगी और 26 जुलाई 2018 को वापस आएगी। रामेश्वरम तीर्थदर्शन के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 03 जुलाई 2018 रहेगी। कामाख्या तीर्थदर्शन हेतु विशेष ट्रेन 25 जुलाई 2018 को शिवपुरी रेल्वे स्टेशन से रवाना होगी और 30 जुलाई 2018 को वापस आएगी। कामाख्या तीर्थदर्शन के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 09 जुलाई 2018 रहेगी।
माह अगस्त में अमृतसर तीर्थदर्शन हेतु विशेष ट्रेन 02 अगस्त 2018 को शिवपुरी रेल्वे स्टेशन से रवाना होगी और 07 अगस्त 2018 को वापस आएगी। अमृतसर तीर्थदर्शन के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 16 जुलाई 2018 रहेगी। श्रवणबेलगोला तीर्थदर्शन हेतु विशेष ट्रेन 09 अगस्त 2018 को शिवपुरी रेल्वे स्टेशन से रवाना होगी और 14 अगस्त 2018 को वापस आएगी। श्रवणबेलगोला तीर्थदर्शन के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 23 जुलाई 2018 रहेगी। गया तीर्थदर्शन हेतु विशेष ट्रेन 16 अगस्त 2018 को शिवपुरी रेल्वे स्टेशन से रवाना होगी और 21 अगस्त 2018 को वापस आएगी। गया तीर्थदर्शन के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 30 जुलाई 2018 रहेगी। अजमेर शरीफ तीर्थदर्शन हेतु विशेष ट्रेन 22 अगस्त 2018 को शिवपुरी रेल्वे स्टेशन से रवाना होगी और 25 अगस्त 2018 को वापस आएगी। अजमेर शरीफ तीर्थदर्शन के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 06 अगस्त 2018 रहेगी।
आवेदन पत्र के साथ पासपोर्ट साईज का एक नवीनतम रंगीन फोटो निर्धारित स्थान पर चस्पा करना होगा एवं निवास के साक्ष्य के लिए राशनकार्ड, ड्रायविंग लायसेंस, विद्युत देयक, मतदाता पहचान पत्र की छायाप्रति दस्तावेज के रूप में दो प्रतियों में प्रस्तुत करना आवश्यक होगी।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *