संजय दत्त ने राजनीतिक पार्टी का गठन किया, किसानों का मसीहा बनकर यूपी की राजनीति को नई दिशा देंगे

जब रजनीकांत पार्टी बना सकते है तो संजय दत्त क्यों नही, दिग्गज नेता संजय दत्त से मिलने पहुच रहे है

लखनऊ – फ़िल्म स्टार संजय दत्त ने भी अपनी राजनीतिक पार्टी बनाली है। अभिनेता नहीं, अब नेता हूं मैं…. फिल्म खलनायक के टाइटल गीत के बोल अब कुछ बदल गए हैं। फिल्म अभिनेता संजय दत्त ने नई राजनीतिक पार्टी का गठन किया है।

संजू बाबा की पार्टी किसानों का मसीहा बनकर यूपी की राजनीति को नई दिशा देगी

संजय दत्त की राजनीतिक पार्टी का प्रदेश कार्यालय लखनऊ के गोमतीनगर में स्थापित किया गया है। पत्रिका के मुताबिक कार्यालय स्थापना के दिन बड़ी संख्या में किसान तथा अन्य दलों के दिग्गज नेता भी संजय दत्त से मिलने पहुंचे। संजय दत्त की नई राजनीतिक पार्टी से यूपी के सियासी कैनवॉस में बड़ा संग्राम होने की उम्मीद है।

उनका हौसला देखकर बड़ी संख्या में नौजवान कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं।

संजय दत्ता का अगला पड़ाव माल एवेन्यू और बड़े नेताओं की कोठी हैं। 40 डिग्री के तापमान में संजय दत्त परेशान हैं, लेकिन उनका हौसला देखकर बड़ी संख्या में नौजवान कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं। संजय दत्त की राजनीतिक पार्टी पर उनके रिश्तेदार का कहना है

संजय दत्त की पार्टी का भाजपा से गठबंधन होना तय है

कि दक्षिण के सुपरस्टार रजनीकांत राजनीतिक पार्टी बना सकते हैं तो संजय दत्त क्यों नहीं। वह तो स्थापित अभिनेता हैं, इसलिए अपने काम को अंजाम देने के लिए कोई भी किरदार निभाने को तैयार रहते हैं। संजय दत्त के एक करीबी दोस्त कहते हैं कि संजय दत्त की पार्टी का भाजपा से गठबंधन होना तय है, ऐसे में सपा-बसपा के गठबंधन की हवा निकल जाएगी।

पार्टी दफ्तर के उद्घाटन से पहले तीन घंटे के लिए कानपुर आए

बुधवार को संजय दत्त अपने रिश्तेदारों से मिलने के लिए कानपुर आए थे। संजू बाबा के करीबी रिश्तेदार शहर के स्वरूप नगर इलाके में रहते हैं। संजय दत्त की कानपुर यात्रा बेहद गोपनीय थी, लेकिन उनके मित्र ने सोशल साइट्स पर तस्वीरों को साझा किया तो संजय दत्त की कानपुर में मौजूदगी की खबर वायरल हो गई।संजय दत्त के रिश्तेदार यासिर इब्राहम ने तस्वीरों को शेयर करते हुए लिखा है कि संजय दत्त की सियासत में नई पारी। इससे पहले वर्ष 2016 में आईपीएल मैच के सिलसिले में संजय दत्त दो दिन तक शहर में ठहरे थे। बुधवार के प्रवास से लौटते समय चंद मिनट की मुलाकात में संजय दत्त ने अपनी राजनीतिक पार्टी ‘प्रस्थानमÓ के एजेंडे और रणनीति के बारे में बताया।

फिल्म की शूटिंग के लिए लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में सेट बनाया गया है।

गोमती नगर में दफ्तर, बड़े नेताओं से करेंगे मुलाकात
चलिए सस्पेंस खत्म करते हैं। दरअसल, फिल्म अभिनेता संजय दत्त बुधवार से अपनी नई फिल्म ‘प्रस्थानमÓ की शूटिंग के लिए लखनऊ पहुंचे हैं। इसी दौरान समय निकालकर कानपुर आए थे। फिल्म की शूटिंग के लिए लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में सेट बनाया गया है। ‘प्रस्थानमÓ तेलगू फिल्म की री-मेक है, जिसमे संजय दत्त लीड भूमिका है। इस फिल्म में संजय दत्त नेशनल पीपुल पार्टी के नेता ठाकुर बलदेव प्रताप सिंह का किरदार निभा रहे हैं। प्रतिष्ठान के एक कोने में उनके दफ्तर के साथ ही संजय की दो आदमकद तस्वीरें भी लगाई गई हैं।

जमीन हथियाने के विरोध में सीतापुर किसान संघ के बैनर तले किसान भूख हड़ताल पर बैठे थे।

नेता संजय दत्त ने अनशन पर बैठे किसानों को मनाया
संजय दत्त के साथ मौजूद करीबी ने बताया कि शूटिंग के पहले दिन करीब 13 रीटेक के बाद 14वें रीटेक में भीड़ का शॉट ओके हुआ, तब फाइनल शॉट के लिए संजय दत्त करीब पौने चार बजे पहुंचे। इसके बाद उन्होंने फिल्म के सेट पर अनशन पर बैठे किसानों को मनाया। फिल्मी पटकथा के मुताबिक, एक स्थानीय नेता और कारोबारी बउवा खत्री ने द्वारा किसानों की जमीन हथियाने के विरोध में सीतापुर किसान संघ के बैनर तले किसान भूख हड़ताल पर बैठे थे। किसानों का सीन फिल्माने के लिए भीड़ में लोकल कलाकारों के साथ आसपास के कस्बों से 100 से अधिक किसानों को जुटाया गया।

यूपी की गर्मी ने संजय दत्त को छकाया, फिर भी जमे रहे

40 डिग्री से ऊपर की गर्मी ने सिर्फ जूनियर कलाकारों और क्रू मेंबर्स को ही नहीं बॉलीवुड स्टार संजय दत्त को भी खूब तपाया। इसके चलते उनका शूट शिड्यूल करीब दो घंटे डिले किया गया। पहले उन्हें दोपहर दो बजे मंच पर आकर अनशन तुड़वाने का शॉट फिल्माना था, लेकिन गर्मी के चलते इसे डिले किया गया, वे करीब पौने चार बजे कैंपस में दाखिल हुए।

लखनऊ में पहली बार शूट कर रहे संजू शॉट के बाद बरगद के पेड़ के नीचे बैठे

तो उन्होंने कलाकारों और निर्देशक से बातचीत में इट्स टू हॉट.. का जिक्र भी किया। गोमतीनगर के बाद कुछ शॉट्स के लिए यूनिट नेताओं के ठिकाने माल एवेन्यू का रुख करेगी। एक राजनेता की कोठी और बड़े मंदिर की लोकेशन पर भी शूट होना है, लेकिन इस पर अभी सहमति नहीं बन सकी है। 2010 में आई तेलगू मूवी प्रस्थानम् की हिंदी रीमेक मूवी के लिए अब अगले तीन-चार हफ्तों संजय दत्त, जैकी श्राफ, अली फजल, मनीषा कोईराला समेत कई कलाकारों का आना जाना जारी रहेगा।

साभार:पत्रिका

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *