सरकारी नम्बरो पर दबंगो को अतिक्रमण कराते दिनारा के पटवारी

*दिनारा में पटवारी से ग्रामीण जनता त्रस्त*

*जनता का फोन रिजेक्ट लिस्ट में डालना पटवारी प्रभाकर से रुष्ठ होने का कारण*

*सरकारी नम्बरों पर कराते है दबंगो को अतिक्रमण*

करैरा तहसील की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत दिनारा इस समय पटवारी से बिल्कुल नाखुश है। दिनारा पटवारी पर दिनारा की जनता के सीधे आरोप की यह महाशय किसी भी ब्यक्ती को तालाब,हाईवे, श्मशान घाट,गिर्राज मन्दिर जहाँ भी सरकारी नम्बर हो तत्काल कब्जा करवा सकते है। दिनारा ग्राम के 2 दर्जन से अधिक ग्रामवासियो ने जनसुनवाई में एक शिकायत में बताया था कि दिनारा में प्रसिद्ध गिर्राज मन्दिर की सड़क का निर्माण पंचायत द्वारा चल रहा था ।

लेकिन उस सड़क के बीचो बीच सरोज पत्नी अक्षय दुबे का कब्जा है इस कारण सड़क की सीधे की जगह डूब बाले क्षेत्र में से होकर निकाला जा रहा है। जिससे बड़े वाहन जो शमशान घाट एवं गिर्राज मंदिर तक पहुँचने में समर्थ नही है वह वाहन आसानी से पहुँच सकते है लेकिन एक ब्यक्ती के अतिक्रमण से पूरी सड़क का नक्शा बिगड़ गया है। जहां भवन निर्माण हो रहा है वहा दिनारा वासियो ने स्टे भी लगवाया है

लेकिन स्टे के बावजूद काम बेधड़क होना कही न कही पटवारी की भूमिका संदिग्ध नजर आ रही है । दिनारा के कुछ नवयुवको ने नाम नही छापने की शर्त पर बताया कि दिनारा में भाजपा के कुछ नेताओं की मिलीभगत से इस भवन निर्माण को संरक्षण मिला हुआ है। दिनारा वासियो ने सर्वे नम्बर 2855,2856,2857 पर जो दिनारा में हाट बाजार के पीछे है वहाँ हो रहे अतिक्रमण पर ध्यान देने की बात कही है एवं जो सीसी रोड डूब इलाके से होकर निकल रही है वह यह अतिक्रमण हटाकर सीधे मिश्रा मार्केट में होकर जोड़ी जाये जिससे सड़क मार्ग से गिर्राज मन्दिर एवं शमशान घाट तक सुगम रास्ता हो सके । दिनारा की आमजनता ने यह भी मांग की है कि पटवारी को जब फोन करते है तो वह फोन में जो नम्बर सेव होते है उसके अलावा कोई नम्बर उनके फोन में रिसीवड नही होता है। अगर आपातकाल में कही ओलावृष्टि या आगजनी की घटना घटित हो तो पटवारी को आमजन सूचना ही नही दे सकता क्योंकि उनके फोन में नम्बर जो सेव है वही उठ सकते है ।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *