कर्जदारों की पिटाई के बाद भाजपा नेता लिधोरिया ने जहर खाकर जान दी 

 

मृतक के पिता ने दिनारा की सरपंच के पुत्रों सहित अन्य साहूकारों पर लगाए गंभीर आरोप

शिवपुरी। भाजपा के अनुसूचित जाति मोर्चा के मंडल अध्यक्ष एवं ऑटो मोबाइल व्यवसायी प्रवीण लिधोरिया ने आज सुबह कर्जदारों द्वारा घर में घुसकर मारपीट करने और जबरन रूपए मांगने से त्रस्त होकर जहर का सेवन कर लिया। जहां इलाज के दौरान झांसी मेडिकल कॉलेज में श्री लिधोरिया की मौत हो गई। मृतक के पिता रमेशचंद्र लिधोरिया ने दिनारा की सरपंच रामकली यादव के पुत्र देवेंद्र यादव, अनिल यादव और पति भानु यादव सहित कृष्ण कुमार यादव और हरिशचंद्र यादव पर प्रवीण की बंधक बनाकर मारपीट करने और 10 प्रतिशत ब्याज की मांग करने का आरोप लगाया। उनका कहना है कि इन्हीं सभी लोगों से त्रस्त होकर प्रवीण ने आत्महत्या की है।

मृतक के पिता रमेशचंद्र ने मोबाइल पर जानकारी देते हुए बताया कि आज सुबह करीब 5 बजे वह घर से शौच के लिए गए थे। उसी दौरान सरपंच के दोनों पुत्र देवेंद्र यादव, अनिल यादव और उनके मित्र कृष्णकुमार, हरिशचंद्र यादव घर पर आए जिन्होंने प्रवीण की मारपीट की और जबरन उससे ब्याज की वसूली करने का दबाव बनाया। बाद में सभी साहूकार उसे धमकी देकर चले गए और उनके जाने के बाद प्रवीण ने जहर खा लिया जब वह शौच कर वापस लौटे तो प्रवीण उन्हें गंभीर हालत में कमरे में पड़ा मिला। जिसे लेेकर वह झांसी मेडिकल कॉलेज लेकर पहुंचे जहां उसने बताया कि सभी लोगों ने उसके साथ मारपीट की और 5-6 दिन पहले भी सरपंच के दोनों पुत्र देवेंद्र और अनिल ने रतन ढाबे के सामने स्थित उनकी दुकान में बंधक बनाकर मारपीट की थी।
50 लाख रूपए का प्रवीण पर था कर्ज

प्रवीण के पिता रमेशचंद्र लिधोरिया ने बताया कि प्रवीण ऑटोमोबाइल का व्यवसाय करता था जिसके लिए उसने सरपंच रामकली यादव के पुत्र देवेंद्र यादव से 15 लाख रूपए और अनिल यादव से 18 लाख रूपए, वहीं कृष्णकुमार से 8 लाख, हरिश्चचंद्र से 7 लाख रूपए उधार लिए थे और उसने अपने व्यापार से उक्त कर्ज की रकम चुकता कर दी थी, लेकिन साहूकारों ने उसके कुछ चैक और कुछ स्टांप वापस नहीं दिए और उस पर जबरन 10 प्रतिशत के हिसाब से चुकता रकम के ब्याज की वसूली शुरू कर दी और आए दिन वह सभी लोग प्रवीण पर दबाव बना रहे थे।

 

पुलिस कार्यवाही में देरी के कारण नहीं हो सका पीएम 

प्रवीण को गंभीर हालत में उसके परिजन झांसी मेडिकल कॉलेज ले गए। जहां दोपहर करीब 2 बजे प्रवीण की उपचार के दौरान मौत हो गई। इस दौरान वहां की पुलिस ने कार्यवाही में देरी कर दी और सूर्य अस्त होने के कारण प्रवीण का पीएम नहीं हो सका। जहां प्रवीण की लाश मेडिकल कॉलेज में पीएम हाउस मे रख ली गई।

 

Durgesh Gupta

Chief Editor

One thought on “कर्जदारों की पिटाई के बाद भाजपा नेता लिधोरिया ने जहर खाकर जान दी 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *