विद्यार्थियों को कोचिंग कराए जाने हेतु शिक्षकों से आवेदन 30 जून तक आमंत्रित

शिवपुरी: जनजातीय कार्य विभाग शिवपुरी द्वारा जिला एवं खण्ड स्तरीय उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्र के विद्यार्थियों को कोचिंग कराए जाने हेतु कोचिंग संस्थान अथवा शिक्षक 30 जून 2018 तक अपने दस्तावेज, अनुभव प्रमाण-पत्र, अंकसूची आदि की प्रमाणित प्रतियां संबंधित संस्था अधीक्षक को जमा कर सकते है।अधिक जानकारी कार्यालय जिला संयोजक, आदिम जाति कल्याण विभाग शिवपुरी एवं संबंधित संस्था अधीक्षक/अधीक्षकों से प्राप्त की जा सकती है।
जिला संयोजक, जनजातीय कार्य विभाग ने बताया कि अनुसूचित जाति एवं जनजाति के विद्यार्थियों को उत्कृष्ट स्तर की शैक्षणिक सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कोचिंग की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए संस्था एवं शिक्षकों से वायोडाटा कराने के लिए इच्छुक शिक्षक जिला स्तरीय, खण्ड स्तरीय बालक, कन्या उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्र शिवपुरी, कोलारस, बदरवास, पिछोर, खनियांधाना, करैरा, नरवर, पोहरी में आवेदन 30 जून 2018 तक संबंधित संस्था अधीक्षक को जमा करना होंगे।
कोचिंग जिला एवं खण्ड स्तर पर संचालित उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्र बालक/कन्या में दी जाएगी। इनमें 50-50 छात्र-छात्राएं प्रवेशित है। जिला स्तरीय, खण्ड स्तरीय बालक एवं कन्या उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्रों में प्रवेशित कक्षा 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों को कोचिंग की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए शिक्षकों या कोचिंग संस्था का वायोडाटा एवं प्रतिकालखण्ड दरें जिला स्तरीय, खण्डस्तरीय बालक, कन्या शिक्षा केन्द्र हेतु 300 रूपए प्रतिकालखण्ड निर्धारित की गई है।
छात्र-छात्राओं को अध्यापन कार्य कराए जाने हेतु शर्ते शासन द्वारा निर्धारित की गई है। इसके लिए शिक्षक, व्यक्ति को प्रतिमाह 20 कालखण्ड अध्यापन कार्य के लिए दिए जाएगें।
कक्षा 9वीं एवं 10वीं में कोचिंग देने वाले शिक्षक के लिए संबंधित विषय में ग्रेजुएट स्तर पर न्यूनतम 60 प्रतिशत अंक होना अनिवार्य है। कक्षा 11वीं एवं 12वीं की कोचिंग के लिए संबंधित विषयों में पोस्ट ग्रेजुएशन में 60 प्रतिशत अंक होना अनिवार्य है। कक्षा 12वीं के विद्यार्थियों को मेडीकल, इंजीनियर, चार्टर एकाउन्टेन्सी, कंपनी सेकेट्री जैसे महत्वपूर्ण प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता दिलाने हेतु विद्यार्थियों को अध्यापन कराना है।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *