BHOPAL: खटलापुर घाट पर फिर हुआ बड़ा हादसा, नाव पलटने पर 3 डूबे

भोपाल | अभी भोपाल नाव हादसे के घाव अभी भरे भी नही थी कि आज शनिवार सुबह फिर खटलापुर खाट पर एक और हादसा हो गया।यहां घाट पर आज फिर एक मछुवारों की नाव पलट गई।  गनिमत रही कि साथी मछुवारों ने आनन-फानन में उन्हें रेस्क्यू कर बचा लिया। 

बताया जा रहा है कि तीनों बिना लाइफ जैकेट के नाव में सवार थे ।मामले की जानकारी होते ही मौके पर  ASP अखिल पटेल पहुंचे। हैरानी की बात तो ये है शुक्रवार को ही यहां बड़ा हादसा हुआ था और 11  लोगों की जान चली गई थी।बावजूद इसके प्रशासन ने कोई सबक नही लिया। अगर सही समय पर तीनों को नही बचाया जाता तो फिर बड़ा हादसा हो सकता था।

बताया जा रहा है कि मछुआरे मछली पकड़ने वाले ठकेदार के कर्मचारी थे जो मछलियों को दाना डालने तालाब में उतरे थे। इस हादसे में बड़ी लापरवाही देखने को मिली। सभी मछुआरे बिना लाइफ जैकेट के ही ठेकेदार ने कर्मचारियों को तालाब में दाना डालने उतार दिया और मौके पर मौजूद नगर निगम और पुलिस के अधिकारियो ने भी उन्हें नहीं रोका।हलांकि उन्हें साथी मछुआरों ने रेस्क्यू कर बचा लिया।

मौके पर पहुंचे ASP अखिल पटेल ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि तीनों को उनके साथियों ने तुरंत बाहर निकाल लिया गया है। तीनों मछली ठेकेदार के आदमी हैं, ठेकेदार सहित अन्य लोगों को भी लाइफ जैकेट के साथ तालाब में नाव लेकर जाने की समझाईश दी है। घटना में किसी तरह की कोई जनहानि नहीं हुई है।

बता दे कि शुक्रवार को गणेश विसर्सन के दौरान नाव डूबने से 11 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं 6 लोगों को रेस्क्यू कर बचा लिया गया था।इस मामले में दो नाविको पर मामला दर्ज किया गया है और लापरवाही पर कईयों को सस्पेंड कर दिया गया है। फिलहाल इस मामले की जांच चल रही है।आगे अन्य अधिकारियों पर गाज गिरना तय माना जा रहा है। 

News Source : Mpbreakingnews.in

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक, विद्यालय,मेन ब्रांच में हिंदी पखवाड़े का आयोजन किया गया

Sat Sep 14 , 2019
अंबाला। विद्यालय प्रधानाचार्य ओम प्रकाश ने बताया कि हिंदी प्राध्यापिका डॉ. सोनिका के द्वारा यह आयोजन किया गया, क्योंकि वह हिंदी की प्राध्यापिका है उस से बेहतर कोई भी अन्य अध्यापक हिंदी पखवाड़ा को मना नहीं सकता है। डॉ. सोनिका ने बताया कि हर वर्ष की भांति विद्यालय के छात्रों […]