DSP अजाक पर दलित महिला के गम्भीर आरोप

DSP अजाक पर दलित महिला के गम्भीर आरोप

खरगोन

मध्य प्रदेश में छेड़छाड़ के मामलों में युवकों पर ऑपरेशन मजनू अभियान चलाने वाला पुलिस विभाग खुद आरोपो के घेरे में खड़ा हो गया है हालांकि प्रदेश में कई मामले ऐसे सामने आ चुके है जिनमे पुलिस अधिकारी से लेकर पुलिस कर्मियों तक पर छेड़खानी और शोषण के आरोप लगे है आरोप लगाने वाले कभी सहकर्मी रहे है तो कभी अन्य लेकिन खरगोन मे ऐसा मामला सामने आया जिसने पुलिस विभाग को ही कठघरे में खड़ा कर दिया है ।

खरगोन में छेड़छाड़ प्रकरण की दलित पीड़िता से पुलिस के जांच अधिकारी DSP संतोष दमदोरिया ने पीड़िता को मिली शासकीय सहायता के बदले में अश्लील मांगकर कर सनसनी फैला दी। अनुसूचित जाति-जनजाति कल्याण थाना के DSP संतोष दमदोरिया पर दलित महिला ने गम्भीर आरोप लगाते हुए गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह के नाम शिकायत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंतरसिंह कनेश को सौपते हुए न्याय की गुहार लगाई है ।पीड़िता ने बताया कि गांव में ही युवक द्वारा उसके साथ छेड़खानी की गई थी जिसके प्रकरण को लेकर DSP सन्तोष दमदोरिया बयानों के लिए बुलाते थे , उस दौरान भी मुझसे अश्लीलता पूर्वक व्यवहार किया और उस मामले की शासन से मिली सहायता राशि के बदले DSP ने अश्लील मांग भी रखी।
पीड़ित महिला ने दुख भरे लहजे मे कहा कि जब रक्षक ही भक्षक बन जाएंगे तो न्याय कहा मिलेगा । पीड़िता ने आरोप पत्र के साथ ऑडियो cd भी adsp को सौंपी है। पीड़िता की साथी महिला का भी कहना है DSP आदतन है जो महिलाओ के साथ ऐसे व्यवहार करता है मैं भी इसकी ऐसी हरकतों की शिकार हो चुकी हूँ । शिकायत के बाद जब मीडिया DSP संतोष दमदोरिया कार्यालय पहुँचे तो DSP कार्यालय पर ताला लगाकर गायब हो गए । वहीं ASP अंतर सिंह कनेश ने मामले की गम्भीरता को देखते हुए जांच की बात कहीं है ।

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *