महबूबा मुफ़्ती हिरासत में, अमित शाह को पीएम मोदी ने दी बधाई

एक संदिग्ध आतंकवादी की बहन से मिलने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने रविवार को चेताया कि अगर आतंकवादियों के परिजनों का उत्पीड़न नहीं रुका तो इसके ”खतरनाक परिणाम होंगे। 

इस महिला की जम्मू कश्मीर पुलिस के कर्मियों ने कथित रूप से पिटाई की थी। महबूबा ने दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले में रूबीना नाम की महिला से उसके आवास पर मुलाकात की। 

मुफ्ती ने ट्विटर पर लिखा, ” (मैंने) पुलवामा के पातीपुरा का दौरा किया जहां रूबीना (जिसका भाई आतंकवादी है), उनके पति तथा भाई की पुलिस हिरासत में निर्दयतापूर्वक पिटाई की गई थी। गंभीर चोटों के कारण वह बिस्तर से उठ नहीं पा रही हैं।पीडीपी की प्रमुख ने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक से इस घटना में शामिल पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की। 

मुफ्ती ने कहा, ”(मैंने) जम्मू कश्मीर के राज्यपाल से कार्रवाई करने और भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोकने का अनुरोध किया। अगर आतंकवादियों के परिजनों का उत्पीड़न नहीं रुकता है तो इसके ऐसे परिणाम होंगे जिससे घाटी में अलगाव और बढ़ सकता है।

मोदी ने की अमित शाह के भाषण की तारीफ

राज्यसभा में गृह मंत्री अमित शाह के भाषण की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तारीफ की है. उन्होंने भाषण का लिंक भी शेयर किया है.

जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल राज्यसभा से पारित

जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल राज्यसभा से पारित हो गया है.

इसके पक्ष में 125 वोट पड़े और विरोध में 61 वोट डाले गए.

एक दिन दोबारा राज्य बनेगा जम्मू कश्मीर : अमित शाह

गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में कहा, “कई सांसदों ने पूछा है कि जम्मू कश्मीर कब तक केंद्र शासित प्रदेश रहेगा. मैं उन्हें भरोसा दिलाना चाहता हूं कि जब स्थिति सामान्य हो जाएगी और सही वक्त आएगा, हम जम्मू कश्मीर को दोबारा राज्य बनाने को तैयार हैं. इसमें थोड़ा लंबा वक्त लग सकता है लेकिन एक दिन ये दोबारा राज्य बनेगा. “

Durgesh Gupta

Chief Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *