असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का श्रमिक सेवा पोर्टल पर पंजीयन कराए: कलेक्टर ने दिए निर्देश

असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का श्रमिक सेवा पोर्टल पर पंजीयन कराए
 कलेक्टर ने दिए अधिकारियों को निर्देश
शिवपुरी: कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के पंजीयन की प्रगति की समीक्षा करते हुए सभी जिला अधिकारियों को निर्देश दिए कि उनके विभाग से लाभ लेने वाले ऐसे हितग्राही जो असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों की श्रेणी में आते है, उनका श्रमिक सेवा पोर्टल पर पंजीयन कराए।
जिससे वे मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना की विभिन्न योजनाओं का लाभ ले सके।
श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने उक्त आशय के निर्देश आज जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में समय-सीमा के पत्रों की समीक्षा के दौरान असंगठित क्षेत्र में अभी तक हुए श्रमिकों के पंजीयन की समीक्षा के दौरान दिए। बैठक में अपर कलेक्टर डॉ.अनुज रोहतगी सहित सभी जिला अधिकारी आदि उपस्थित थे।
कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने समय-सीमा के पत्रों की समीक्षा करते हुए कहा कि जिले में असंगठित क्षेत्र के तहत अभी तक 5 लाख श्रमिक का ही पंजीयन हुआ है, जो काफी कम है।
सभी जिला अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि उनके विभाग से लाभ लेने वाले ऐसे हितग्राही जो शासकीय सेवा में नही है, आयकरदाता नहीं है और 1 हेक्टेयर से अधिक कृषि भूमि नहीं है, वे सभी असंगठित क्षेत्र की श्रेणी में पंजीयन करा सकते है। पंजीयन कराने हेतु हितग्राही को सादे कागज पर पूर्ण जानकारी के साथ सत्यापित करना होगा।
उन्होंने कहा कि इन हितग्राहियों को चिंहित कर श्रमिक सेवा पोर्टल पर उनका पंजीयन कराए। जिससे असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों एवं उनके परिवार के लिए संचालित 11 योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकते है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि चिकित्सालय में आने वाली सभी प्रसूताओं को असंगठित क्षेत्र का हितग्राही मानकर उनका पंजीयन कराए। जिससे उनको मुख्यमंत्री जनकल्याण प्रसूति सहायता योजना के तहत 16 हजार रूपए की सहायता प्राप्त हो सके।
श्रीमती गुप्ता ने पेंशन प्रकरणों की समीक्षा करते हुए जिला अधिकारियों को निर्देश दिए कि विभागीय जांच के कारण जो पेंशन प्रकरण लंबित है, ऐसे प्रकरणों में दो माह के अंदर विभागीय जांच का निराकरण कर पेंशन प्रकरण के निराकरण की भी कार्यवाही करें। 

Durgesh Gupta

Chief Editor

One thought on “असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का श्रमिक सेवा पोर्टल पर पंजीयन कराए: कलेक्टर ने दिए निर्देश

  • September 22, 2018 at 9:07 pm
    Permalink

    You will be able to vehicle dos and don’ts of dating by seeking the assistance of such professional help.

    Precisely the same applies to old coins and also coins in you collection. Feels like a foreign language,
    doesn’t it?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *